My Hindi Love Shayari, Thi Ek Hasina

my hindi love shayari beautiful girl

थी एक हसीना जिसकी पूजा करते थे,
थी एक दिलरुबा जिसे हम चाहते थे,
थी एक जान जिस पर हम मरते थे,
थी एक मेहबूबा जिससे हम वफ़ा करते थे।

पर हमारी वफ़ा को वो समझ न सकीय,
हमारी मोहब्बत को वो अपना न सकीय,
ना जाने क्यों वो हमसे वफ़ा कर न सकी,
ना जाने क्या कमी थी हमारे प्यार में जो वो हमारी हो ना सकी।

दिल और जान से मोहब्बत करते थे उससे,
खुद से ज्यादा प्यार करते थे उससे।
न जाने क्यों उसने मेरा दिल तोड़ दिया,
न जाने क्यों उसने हमें यूँ अकेला छोड़ दिया।

अब तो बस हर पल उसे याद करते हैं,
वो हमारी बनेगी कभी इसी उम्मीद में जीते है मरते हैं,
वो चाहे हमसे प्यार करें तो करें हम तो उसी को चाहते हैं।

Very Sad Shayari in Hindi Fonts for Girlfriend

New Sad Shayari in Hindi fonts for girlfriend

हमारे प्यार का प्यार हम न थे

बदनसीबी थी हमारी की हमारे प्यार का प्यार हम न थे,
पर खुशनसीब है हमारा प्यार जो उसके प्यार का प्यार वो थे,
ऐ खुदा हमारे प्यार को उसका प्यार दे देना,
उम्र भर के लिए हमारे प्यार को उसके प्यार का साथ दे देना,
हमारी तरह उसकी ज़िन्दगी में तन्हाई का गम न देना।

यह मुमकिन तो नहीं फिर भी ये दुआ करते है,
हमारी प्यार का प्यार उसको हमसे भी ज्यादा प्यार करे,
हमारी प्यार की ज़िन्दगी में वो हमसे भी ज्यादा रंग भरे।

हम तो बस की हमारे प्यार की ज़िन्दगी मैं कभी प्यार की कमी न हो,
वो सदा मुस्कराये, चाहे उसकी ख़ुशी किसी और के प्यार में क्यों न हो।

अधूरी सी जिंदगी

हमारी मंजिल हमारे साथ चलती है,
फिर भी हम मंजिल तक पहुंच नहीं पाते।

हमारी किस्मत हमारे करीब रहती है,
फिर भी ऐसा लगता है किस्मत साथ नहीं देती।

हमारा प्यार हमारे साथ रहता है,
फिर भी अपनों की कमी सताती है।

हमारी जिंदगी हमारे साथ रहती है,
फिर भी लगता है जिंदगी हमसे दगा कर जाती है।

हमारी खुशी हमारे साथ चलती है,
फिर भी जिंदगी गम का भंडार लगती है।

हमारी दुनिया हमारे साथ रहती है,
फिर भी जिंदगी अधूरी सी लगती है।

हिंदी ग़ज़ल बहारें आके चली जायेंगी

बहारें आके चली जायेंगी तो क्या होगा
उनकी बस यादें ही रह जायेंगी तो क्या होगा

अभी है वक़्त हसरतों को पूरा करने की
वर्ना जब हसरतें पछताएंगी तो क्या होगा

ख्वाहिशें दिल में उठी हैं न दबा तू उनको
दिल ही दिल में वो रह जायेंगी तो क्या होगा

अपनी किस्मत को अपने हांथों से लिख लेना “फ़िज़ा”
लकीरें हाथों की मिट जायेंगी तो क्या होगा।